Covid गाइडलाइन उत्तराखंड चार धाम यात्रा 2021 | What are COVID Guidelines for Uttarakhand Char Dham Yatra 2021 |

0
277

 COVID गाइडलाइन उत्तराखंड चार धाम यात्रा 2021

उत्तराखंड चार धाम यात्रा 2021 को आखिरकार न्यायालय द्वारा खोलने की अनुमति मिल चुकी है। 19 सितंबर से बाहर से आने वाले यात्री और सभी श्रद्धालु चार धाम की यात्रा कर पाएंगे। चार धाम यात्रा के लिए सरकार द्वारा COVID

गाइडलाइन जारी कर दी गयी है। सभी यात्रियों को गाइड लाइन का पालन करना आवश्यक है। चार धाम यात्रा के साथ ही हेमकुंड दर्शन यात्रा भी 18 सितंबर से खोल दी गयी है।

COVID गाइडलाइन उत्तराखंड चार धाम यात्रा 2021

COVID गाइडलाइन सितम्बर 2021 के नियम कुछ इस प्रकार हैं-

1- यात्रियों को दर्शन के लिए पंजीकरण और ई पास अनिवार्य किया गया है। पंजीकरण उत्तराखंड चार धाम देवस्थानम की वेबसाइट पर किया जा सकता है।

http://smartcitydehradun.uk.gov.in/

https://badrinath-kedarnath.gov.in/

2- पवित्र कुंड में डुबकी लगाना प्रतिबंधित रहेगा।

3- यात्रा के लिए यात्रियों को 72 घंटे पहले की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य होगा या कोविड वैक्सीन के दोनों टीकों का सर्टिफिकेट दिखाना होगा।

इसके साथ ही ध्यान दें कि केरल, महाराष्ट्र और आंध्रप्रदेश के यात्रियों को COVID की दोनों वैक्सीन और 72 घंटे पहले तक की COVID नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है।

4- बच्चे, बीमार और अति वृद्ध लोगों को यात्रा की इजाजत नही दी जाएगी।

5- मंदिर में एक बार में 3 श्रद्धालु ही प्रवेश कर पाएंगे और मूर्तियों को छूने पर मनाही रहेगी।

6- सोशल दूरी का पालन करना अनिवार्य रहेगा और श्रद्धालुओं को मंदिर गर्भगृह में प्रवेश करने की अनुमति नहीं रहेगी।

यात्रा मार्ग पर जगह-जगह चेकपॉइंट बनाये जायेंगे जहाँ आवश्यकता पड़ने पर चेकिंग की जाएगी।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021

चार धाम यात्रा उत्तराखंड 2021 | चार धाम यात्रा सम्पूर्ण ट्रेवल गाइड | Char Dham Yatra 2021 Complete Travel Guide In Hindi | 

बद्रीनाथ-केदारनाथ सहित चारधाम पहुँचने वाले राज्य और दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों के लिए सख्त पाबंदियां लगाई जा रही है। माल वाहक वाहनों, डबल डेकर ट्रक और टू-व्हीलर द्वारा यहाँ पहुँचने वाले यात्रियों पर रोक रहेगी। परिवहन आयुक्त दीपेंद्र कुमार चौधरी ने राज्य में प्रवेश करने वाले ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश जारी कर दिए गए हैं, साथ ही उत्तरप्रदेश समेत कई राज्यों को इस बारे में गाइड लाइन जारी की है। 

*****कृपया ध्यान दें कि सरकार द्वारा नियमों में समय-समय पर बदलाव किये जाते हैं इसलिए यात्री आधिकारिक जानकारी को देख कर ही यात्रा पर जाएं।*****

चार धाम में पहुँचने के लिए प्रतिदिन यात्रियों की संख्या

यमुनोत्री धाम में प्रतिदिन मात्र 400 श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021
यमुनोत्री धाम

 सरूताल ट्रेक उत्तराखंड | उत्तरकाशी जिले में 38 किलोमीटर का पैदल ट्रेक | Sarutal Trek Uttarakhand Complete Guide In Hindi |

गंगोत्री धाम में प्रतिदिन मात्र 600 श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021
गंगोत्री धाम

हरसिल वैली | उत्तराखंड का स्विट्ज़रलैंड | Harsil Valley Uttarakhand Complete Travel Guide In Hindi |

बद्रीनाथ धाम में प्रतिदिन मात्र 800 श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021
बद्रीनाथ धाम

केदारनाथ धाम में प्रतिदिन मात्र 1000 श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021
केदारनाथ धाम

हेमकुंड साहिब में प्रतिदिन मात्र 1000 श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे। हेमकुंड मैनेजमेंट ने बीमार यात्रियों, 60 वर्ष से अधिक आयु और 10 वर्ष से कम आयु के यात्रिओं से यात्रा न करने की अपील की है। यात्रियों को ऋषिकेश गुरुद्वारा कार्यालय में पंजीकरण करवाना होगा।

Covid_Guidelines_Uttarakhand_Char_Dham_Yatra_2021_Hemkund_yatra
हेमकुंड साहिब

चार धाम यात्रा पर रोक हटने के तुरंत बाद से यात्रियों में चार धाम पहुंचने की उत्सुकता देखी जा रही है। केदारनाथ में शुरू के 2 दिन के भीतर ही 12 से 15 दिन की वेटिंग देखने को मिल रही है। काफी संख्या में यात्री चार धाम यात्रा के लिए पंजीकरण कर रहे हैं।

***सभी यात्रियों से निवेदन है कि COVID गाइडलाइन उत्तराखंड चार धाम यात्रा का अच्छे से पालन करें और पवित्र स्थानों पर किसी भी प्रकार की गंदगी न करें। साथ ही पवित्र स्थानों की मर्यादा बनाएं रखें।***