Homeउत्तराखंडजनक ताल ट्रेक उत्तरकाशी | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi...

जनक ताल ट्रेक उत्तरकाशी | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi Distance in Hindi |

जनक ताल और उत्तरकाशी | Janak Tal Trek distance and Uttarkashi Tourism |

जनक ताल ट्रेक उत्तरकाशी जिले में गंगोत्री मार्ग पर पड़ने वाला  सुन्दर ट्रेक है। उत्तरकाशी जिला, उत्तराखंड का सबसे प्रमुख पहाड़ी जिला है। उत्तरकाशी जिले में स्थित पर्यटक स्थान सबसे अधिक देखे जाने वाले पर्यटन स्थलों में से एक है। उत्तरकाशी जिला तिब्बत की सीमा से लगा हुआ है। यहां की हिमालय पर्वत की चोटियाँ ट्रेकिंग के लिए अपार संभावनाएं प्रदान करती हैं। हर साल हजारों लाखों की संख्या में पर्यटक देश विदेश से पवित्र गंगोत्री, यमुनोत्री मंदिरों के दर्शन करने यहां पहुंचते हैं।

इसके साथ ही उत्तरकाशी जिले में डोडीताल, केदारकांठा, हर की दून, दयारा बुग्याल, सरुताल, गुलाबी कांठा ट्रेक, गरतांग गली आदि जैसे रोमांचक ट्रेकिंग ट्रेल्स हैं जो सदियों से साहसिक प्रेमियों द्वारा पसंद किए गए हैं। राज्य की पर्यटन क्षमता को बढ़ाने के लिए जिला प्रबंधन और पर्यटन विभाग उत्तराखंड में लगातार रोमांचक और सुंदर ट्रेकिंग मार्ग खोजने का प्रयास करते रहे है। इसी क्रम में उत्तरकाशी का जनक ताल ट्रेक पर्यटकों के लिए 1 अप्रैल 2022 से खोला जा रहा है।

जनक ताल उत्तरकाशी | Janak Tal Trek Uttarkashi Distance |

janaktal trek uttarkashi distance uttarakhand in hindi
जनक ताल समुद्र तल से लगभग 5400 मीटर की ऊंचाई पर उत्तरकाशी जिले के गंगोत्री क्षेत्र में स्थित है। जनकताल ट्रेक पहली बार पर्यटकों के लिए खुलेगा। जादुंग गांव से 11 किमी की दूरी पर स्थित जनक ताल ट्रेक आज तक पर्यटकों के लिए नहीं खोला गया।  इनर लाइन में होने के कारण पर्यटकों का यहां आना प्रतिबंधित था। अभी तक इस ट्रैक का इस्तेमाल मात्र आईटीबीपी और सेना करती रही है। लेकिन अब जिला प्रशासन के आदेश पर इस ट्रैक को खोलने की तैयारी की जा रही है। जिससे 1 अप्रैल 2022 के बाद पर्यटक इस ट्रैक  के रोमांचक सफर का आनंदले पाएंगे।
janaktal trek uttarkashi distance uttarakhand in hindi
जनक ताल ट्रेक के लिए जादुंग गांव को बेस कैंप के रूप में विकसित किया जाएगा। जिससे जादुंग गांव में भी पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।पर्यटकों के लिए जनक ताल ट्रेक के खुलने से खगोल विज्ञान के प्रति उत्साही लोगों को भी लाभ होगा।
गंगोत्री मार्ग पर भैरों घाटी से नेलोंग घाटी तक एक इनर लाइन है जो मुख्य कारण है कि पर्यटकों को यहां रुकने की अनुमति नहीं है। लेकिन अब इन लाइनों को इनर परमिट से मुक्त करने की कवायद शुरू हो गई है। इससे जनक ताल ट्रेक मार्ग सुगम और आसान हो जाएगा।

पर्यटकों को जनकताल जाने के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी होगी क्योंकि यह इनर लाइन परमिट और गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान के अंतर्गत आता है।

janaktal trek uttarkashi distance uttarakhand in hindi

 ALSO SEE यमुनोत्री से गंगोत्री जाने की पूरी जानकरी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें।

 जनक ताल ट्रेक आश्चर्यजनक तथ्य | Amazing Facts About Janak Tal Trek |

पर्यटक नेलोंग घाटी पर जनक ताल ट्रैक पर भी स्टारगेजिंग का आनंद भी ले सकेंगे। साफ वातावरण होने की वजह से आसमान में तारे साफ दिखाई देते हैं। नेलोंग घाटी गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान की सीमा के अंतर्गत आती है, जिससे पर्यटक क्षेत्र के विदेशी वन्य जीवन का आनंद ले सकेंगे। गंगोत्री नेशनल पार्क में हिम तेंदुआ, बरड, भूरा भालू जैसी दुर्लभ प्रजातियां देखने को मिलेंगी। खगोल विज्ञान के शौकीनों को भी यहां आने से फायदा होगा। प्रशासन ने खगोल विज्ञान के प्रेमियों के लिए दूरबीन की भी व्यवस्था की है।

janaktal trek uttarkashi distance uttarakhand in hindi
 यहां प्रशासन की ओर से ठहरने की उचित व्यवस्था के लिए कोई आधिकारिक अपडेट नहीं है लेकिन जल्द ही आप पर्यटन का आनंद लेने के लिए यहां रुक सकेंगे। अभी तक यहां शाम पांच बजे के बाद लोगों को रुकने नहीं दिया जाता था लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से पर्यटन के लिहाज से जगह को अच्छी तरह से तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है।

जनक ताल ट्रेक पहुंचने के लिए परमिट | Janak Tal Trek Uttarkashi Online Permit |

उत्तरकाशी जिले के गंगोत्री और यमुनोत्री दोनों घाटियों में पर्यटन विभाग द्वारा चिन्हित 60 से ज्यादा पहाड़ी ट्रेक हैं। ट्रेकर्स की आसानी के लिए उत्तरकाशी पर्यटन विभाग द्वारा इन ट्रेक को 03 श्रेणियों में विभाजित किया गया है।
  • आसान- 3500 मीटर से नीचे
  • मध्यम- 3500 मीटर – 4000 मीटर
  • कठिन- 4000 मीटर से ऊपर
जनक ताल ट्रेक या उत्तरकाशी के अन्य किसी ट्रेक के ऑनलाइन परमिट के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

जनकताल कैसे पहुंचे | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi from Dehradun |

पर्यटक कृपया ध्यान दें कि अभी यह ट्रेक शुरूआती दौर में है। यहाँ पहुँचने के लिए लोकल गाइड की सहायता जरूर लें।

how to reach janaktal trek distance uttarkashi
 जनक ताल गंगोत्री गांव से 35 किमी और नेलोंग से 12 किमी दूर है।  यह इनर लाइन परमिट और गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान के अंतर्गत है। यहां पहुंचने के लिए पर्यटकों को प्रशासन से अनुमति लेनी होगी।  इस यात्रा की शुरुआत आप गंगोत्री से कर सकते हैं। जनक ताल ट्रेक की शुरुआत भैरों घाटी से होती है।

MUST READ About How to reach Harsil Valley on the way to Gangotri

रेल मार्ग द्वारा जनकताल कैसे पहुंचे | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi by Train |

जनक ताल पहुँचने के लिए निकटतम रेलवे स्टेशन देहरादून और ऋषिकेश रेलवे स्टेशन है। इसके बाद सड़क मार्ग द्वारा उत्तरकाशी के भैरों घाटी पहुंचना होगा।

हवाई मार्ग द्वारा जनकताल कैसे पहुंचे | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi by Flight |

जनक ताल पहुँचने के लिए निकटतम हवाई अड्डा, देहरादून का जॉलीग्रांट हवाई अड्डा है। इसके बाद सड़क मार्ग द्वारा उत्तरकाशी के भैरों घाटी पहुंचना होगा।

सड़क मार्ग द्वारा जनकताल कैसे पहुंचे | How to reach Janak Tal Trek Uttarkashi by Road from Dehradun |

जनक ताल ट्रेक के लिए पर्यटकों को भैरों घाटी पहुंचना होता है। भैरों घाटी उत्तरकाशी शहर से लगभग 93 किलोमीटर की दूरी पर गंगोत्री मार्ग पर पड़ती है। देहरादून से भैरों घाटी की सड़क मार्ग दूरी 236 किलोमीटर है। जिसे तय करने में 8 घंटे तक का समय लग जाता है। भैरों घाटी से जनक ताल ट्रेक शुरू होता है। कुछ समय बाद जादूँग गाँव को जनकताल का बेस कैंप बनाया जायेगा।

पहाड़ की और भी झलकियां और जानकारियां देखें।

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।
हमारे इंस्टाग्राम पेज को फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

पहाड़ीGlimpse के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular